Saturday, 8 June 2019

हैवानियत .. पर सवाल...|Aligarh murder -by Deepak Bansal


Shayar ki Kalam se dil ke Arman...
बच्ची से दरिंदगी पर कुछ सवाल...
अलीगढ़ कांड मासूम को न्याय दिलाने के लिए



उस बच्ची के दर्द का एहसास तुम क्या जानो!
उसकी आंखो से निकलते रक्त का एहसास तुम क्या जानो!
चिर दिए हाथ दरिंदो ने उसके,
उसके खोफ का एहसास तुम क्या जानो!
बच्ची थी वो ढाई बरस की,
हैवानियत से लडने का हौसला तुम क्या जानो!
हम करते सिर्फ कैंडल मार्च ,
दरिंदो को सजा देने का सुकून तुम क्या जानो!
मौत भी डर जाए ये दरिंदगी देख,
पर फेसबुक से बाहर की दुनिया तुम क्या जानो!
हम है कायर घर पर बैठे ,
सड़को पर उतर हैवानों को मौत के घाट उतारना तुम क्या जानो!
आंख के बदले आंख और हाथ के बदले हाथ उखाड़ने का असली अवसर तुम क्या जानो!
अब बस मुझे इंसाफ चाहिए ,उस लड़की की पुकार अब तो जानो अब तो जानो!

No comments:

Post a comment