Tuesday, 18 June 2019

Mohabbat shayari | मोहब्बत शायरी | मोहब्बत भरी शायरी -By Deepak bansal

Shayar ki Kalam se dil ke Arman...

Mohabbat shayari | मोहब्बत शायरी | मोहब्बत भरी शायरी

 yha mene khud ke sath jo hua or jo sbke sath hota h usko lekar Mohabbat shayari in hindi me aap logo ke samne lekar aaya hu.

yha love shayari in hindi for girlfriend bhi apke liye dali h.

Mene yha mohabbat shayari hindi images me b dali h.

1.जब तक जिंदा हूं पी लेने दो!
मुझे खामोशियों में जी लेने दो!
मौत ही आ जाए तो और बात है,
तुम्हारे होठों पे लगा जाम पी लेने दो!
Mohabbat shayari | मोहब्बत शायरी | मोहब्बत भरी शायरी

2.शर्म लाज पर ना किसी का पहरा है!
अब यहां जिस्म सिर्फ बिस्तर पर ठहरा है!
जिस्मानी ताल्लुकात हो गए अब फैशन है,
अब लोग बदलते हर रोज सेहरा है!


 2..एक दौर था उस दौर की बात ना कर!
एक मंजर था उस मंजर की बात ना कर!

एक महबूब था जिसकी मजार पर हम रोए थे,
उस मजार पर चड़ी चादर की बात ना कर!

एक वो थी जिसने सवारा था मुझे,
उसकी हंसी में छुपे असर की बात ना कर!

उसकी जुल्फो से खेलते वक्त को थाम लेना,
उस खेलते वक़्त के कहर की बात ना कर!

उसकी आंखे झिलमिलाती चांदनी सी थी,
उन आंखो में बहती लहर की बात ना कर!

तू मुझको भी अब अपने पास बुला ले,
इस सीने में घुलते जहर की बात ना कर!

एक दौर था उस दौर की बात ना कर
एक मंजर था उस मंजर की बात ना कर
love shayari in hindi for girlfriend
EK DOR THA US DOR KI BAAT NA KR


2.तेरे महखाने में पिए जा रहे है!
तेरे हुस्न का जाम लगाए जा रहे हैं!
ये तेरे हुस्न का असर है या प्यार है,
हम खुद को बेनकाब किए जा रहे है!


2.उस नींद की तलाश में सोता हूं मै
जाग जाग रात रोता हूं मै
दर्दे दिल की सिफारिश ना कर,
खुद को हर पल तनहा पाता हूं मै!
us nind ki talsh me sota hu me jaag jaag raat rota hu me
Nind ki talsh


2वो शमा क्या जिसे जलाने वाला ना हो!
वो इंसान क्या जिसे चाहने वाला ना हो!
wo sama kya jise jalame wala na ho

2.हर जख्म की दवा क्या होगी
हर वफा की सजा क्या होगी
जब किस्मत ही ऐसी हो,
तो मौत की वजह क्या होगी !
DARD ki shayari

2.मै खामोशी से चलता रहा अपनी राह पर
वो राह में मिली मुझे उसी राह पर
वो सामने से गुजरी मेरे उसी राह पर
और में राह तकता रहा उसकी उसी रह पर
me khamosi se chlta rha apni rah par


2.नशे सी आदत बन गई है वो,
सुर्र्क-ऐ- रंगत बन गयी है वो,
पीता था इस कदर सजदे में दोस्तो,
मेरी फकत इबादत बन गई है वो।
नशे सी आदत बन गई है वो, सुर्र्क-ऐ- रंगत बन गयी है वो, पीता था इस कदर सजदे में दोस्तो, मेरी फकत इबादत बन गई है वो।


2.ये आरज़ू हमे सोने नही देती
उनकी चाहत रोने नहीं देती
ये मुफ़लिसी गुनाह लगती है
पेट की भूख जब जीने नही देती।
आरज़ू

3.इस कदर आंखे नम है,जैसे आसुओं में दबा कोई सैलाब है!
इस क़दर रूह दागदार है,जैसे रूह ने ओडा बदनसीबी का हिजाब है!
इस कदर मैं रो रहा हूं,जैसे जिंदगी का आखरी हिसाब है!
इस कदर जज्बात बेकाबू है, जैसे मुद्दतो से पहन रखा  कोई नक़ाब है!
इस कदर आंखे नम है, जैसे आसुओं में दबा कोई सैलाब है!
इस कदर आंखे नम है,जैसे आसुओं में दबा कोई सैलाब है! इस क़दर रूह दागदार है,जैसे रूह ने ओडा बदनसीबी का हिजाब है! इस कदर मैं रो रहा हूं,जैसे जिंदगी का आखरी हिसाब है! इस कदर जज्बात बेकाबू है, जैसे मुद्दतो से पहन रखा  कोई नक़ाब है!  इस कदर आंखे नम है, जैसे आसुओं में दबा कोई सैलाब है!
Sad shayari



2.अब उन्हें हमारा छुना भी पसंद नहीं!
तिरस्कार कर साथ रहना भी पसंद नहीं!
तुम साथ रहो या नहीं,
अब हमे अकेले जीना भी पसंद नहीं!
dad shayari


3.तुझसे मोहब्बत बेशुमार की!
हर पल हजार बार की!
नसीब में तू है या नहीं,
तुझसे इजहारे मोहब्बत कई बार की!
mohabbat

4.मुकाम पाने को पागलपन भी जरूरी है!
मोहब्बत करने को आवारापन भी जरूरी है!
तू मिले ना मिले ना सही,
तेरे इंतज़ार में अधूरापन भी जरूरी है!

mohabbat


                                    ये भी पढ़िए  : आशा करता हूँ  मेरी लिखी मोहब्बत शायरी  आप लोगो को पसंद आयी होगी ! तो जुड़े रहिये और  पढ़ते  रहिये!

                                    Sad Hindi shayari

                                    Mohabbat shayari

FOR VIDEOS:
PLEASE VISIT THIS LINK:SHAYARI BLOGGER






8 comments: