Thursday, 30 April 2020

JAVED AKHTAR FAMOUS SHAYARI!


Shayar ki Kalam se dil ke Arman...

INTRODUCTION
 जन्म :17/01/1945
जन्म स्थान : ग्वालियर 
पत्नी : शबाना आजमी , हनी ईरानी 
बच्चे : फरहान अख्तर, ज़ोया अख्तर 

जावेद अख्तर देखा जाये तो कुमार विश्वास के बाद सबसे ज्यादा  पोलिटिकल एक्टिव शायर है ! जो पदम् श्री से सम्मानित है ! और बहुत ही उम्दा शायर हैं !
तो चलिए पढ़ते हैं उनके उम्दा शेर !



1.kabhī jo hvāb thā vo pā liyā hai 
magar jo kho ga.ī vo chiiz kyā thī 



2.jidhar jaate haiñ sab jaanā udhar achchhā nahīñ lagtā 
mujhe pāmāl rastoñ kā safar achchhā nahīñ lagtā 

जिधर जाते हैं सब जाना उधर अच्छा नहीं लगता!
मुझे पामाल रास्तों का सफर अच्छा नहीं लगता !!

JAVED AKHTAR FAMOUS SHAYARI!
इश्क़ शायरी 



3.Dar ham ko bhī lagtā hai raste ke sannāTe se 
lekin ek safar par ai dil ab jaanā to hogā 

डर हम को भी लगता है रस्ते के सन्नाटे से,
लेकिन एक सफर पर ऐ  दिल अब जाना होगा !


4.ūñchī imāratoñ se makāñ merā ghir gayā 
kuchh log mere hisse kā sūraj bhī khā ga.e 

ऊँची इमारतों से मकान मेरा घिर गया,
कुछ लोग मेरे हिस्से का सूरज भी खा गए !


5.ġhalat bātoñ ko hāmoshī se sunñā haamī bhar lenā 
bahut haiñ fā.ede is meñ magar achchhā nahīñ lagtā

ग़लत बातों को खामोशी से सुन्ना हामी भर लेना ,
बहुत है फायदे इस में मगर अच्छा नहीं लगता !


6.is shahr meñ jiine ke andāz nirāle haiñ 
hoñToñ pe latīfe haiñ āvāz meñ chhāle haiñ 

इस शहर में जी ने के अंदाज निराले है ,
होंठो पे लतीफे है आवाज़ में चाले है !


ये भी पढ़िए : MIRZA GALIB SHAYARI


7.ham to bachpan meñ bhī akele the 
sirf dil kī galī meñ khele the 

8.dhuāñ jo kuchh gharoñ se uTh rahā hai 
na puure shahar par chhā.e to kahnā 

9.maiñ pā sakā na kabhī is halish se chhuTkārā 
vo mujh se jiit bhī saktā thā jaane kyuuñ haarā 

10.ajiib aadmī thā vo 
mohabbatoñ kā giit thā 

अजीब आदमी था वो 
मोहब्बतों का गीत था !

11.baġhāvatoñ kā raag thā 


12.kabhī vo sirf aag thā 
ajiib aadmī thā vo 


13.vo muflisoñ se kahtā thā 
ki din badal bhī sakte haiñ 

वो मुफ़लिसों से कहता था ,
की दिन बदल भी सकते हैं !


JAVED AKHTAR FAMOUS SHAYARI!
दर्द 

AAP LOGO KE LIYE YHA JAVED AKHTAR ROMANTIC SHAYARI IN HINDI , JAVED AKHTAR 2 LINE SHAYARI, JAVED AKHTAR SHAYARI IN HINDI, JAVED AKHTAR IMAGES, JAVED AKHTAR SHAYARI IN URDU,SHAYARI ON SOUL, JAVED AKHTAR POETRY ETC. LEKE AAYA HU TO APNA PYAR DHIKAYE.

ये भी पढ़िए : MUNNWAR RANA FAMOUS SHER

                     RAHAT INDORI FAMOIUS SHAYARI 




I recommend you to open a FREE trading and demat account with Edelweiss 

 Paperless, Hassle-free and quick


For any query call 09549522228





FOR VIDEO : JASAN-E-REKHTA URDU GAJAL BY ZAVED AKHTAR

Monday, 27 April 2020

ISHQ JUNOON SHAYARI!GAJAL!

Shayar ki Kalam se dil ke Arman...
 

ISHQ JUNOON SHAYARI!GAJAL!


YHA AAP LOGO KE LIYE ISHQ SHAYARI, ISHQ JUNOON SHAYARI, JUNOON SHAYARI,ISHQ KI SHAYARI IN IMAGES,MOHABBAT JUNOON SHAYRI, ISHQ SHAYRI IN HINDI,LOVE SHAYARI,MUKMAL ISHQ SHAYRI,ISHQ KI BIMARI SHAYARI ,DARD E ISHQ SHAYARI JESI BHUT SI SHAYARI AP LOGO KE LIYE LEKE AAYA HU.

ISHQ JUNOON SHAYARI!GAJAL!
ISHQ

गुनगुनाकर मुस्कुराकर जी रहे हैं ज़िन्दगी..
दर्द को सीने लगाकर जी रहे हैं ज़िन्दगी...


जिनकी ख़ातिर ख़ुद को ही बदला बहुत..
और अब उनको भुलाकर जी रहे हैं ज़िन्दगी..


थी बहुत मजबूरियाँ, दूरियाँ ख़ुद से भी थीं..
ख़ुद से अब नज़दीक आकर जी रहे हैं ज़िन्दगी...


घाव से डरते रहे काँटों से सब बचते रहे..
चोट सब फूलों से खा कर जी रहे हैं ज़िन्दगी...veeru



GUNGUNAKAR MUSKRAKAR JI RHE HE JINDAGI..
DARD KO SINE LGAKAR JI RHE HE JINDAGI..


JINKI KHATIR KHUD KO HI BADLA BHUT..
OR AB UNKO BHULAKAR JI RHE HE JINDAGI..


THI BHUT MAJBURIYA,DURIYA KHUD SE BHI THI..
KHUD SE AB NAJDIK AAKAR JI RHE HE JINDAGI..


GHAV SE DARTE RHE KANTO SE SB BCHTE RHE..
CHOT SB FULO SE KHA KAR JI RHE JINDAGI..



YE BHI PDIYE :CORONA YA ZOMBIES




ISHQ JUNOON SHAYARI!GAJAL!
JUNOON





-ग़ज़ल/gazal-


--------
बहता पर, बरसात से आगे क्या जाता,
आँसू अपनी ज़ात से आगे क्या जाता।।

--------
वरना ये भी रात से आगे क्या जाता।।

--------
करता है वो बात ग़ज़ल में मुफ़लिस की,
शाइर भी हालात से आगे क्या जाता।।

--------
खुशबू तितली रंग हवा, सब हासिल थे,
भौंरा फिर बाग़ात से आगे क्या जाता।।

--------
दर्द-ए-दिल सदमात से आगे क्या जाता।।

--------
छोड़ "क़फ़स" अब बात पुरानी, रहने दे,
कपड़ा खुद ख़य्यात से आगे क्या जाता।।

©रोहिताश"क़फ़स"
मामूर=deter-mined//ख़य्यात=tailor




BHUT PAR, BARSAT SE AAGE KYA JATA,
AANSU APNI JAAT SE AAGE KYA JATA!!

DEKHO DIN MAMUR HUA HE,RUKNE KO,
WRNA YE BHI RAAT SE AAGE KYA JATA !!

KARTA HE WO BAAT GAJAL ME MUFLIS KI,
SAIER BHI HALAT SE AAGE KYA JATA!!

KHUSBU TITLI RANG HAWA,SB HASIL THE,
BHOURA FIR BAGAAT SE AAGE KYA JATA!!

JATA ME BHI DUR TALAK,PAR FIR SOCHA,
DARD-AE- DIL SDMAAT SE AAGE KYA JATA!!

CHOD "KAFAS" AB BAAT PURANI, RHNE DE,
KAPDA KHUD KHYYAAT SE AAGE KYA JATA!!





YE BHI PDAIYE :KHAMOSH SHAYARI




EK GARIB BCHE KI HASI




I recommend you to open a FREE trading and demat account with Edelweiss 

 Paperless, Hassle-free and quick


For any query call 09549522228





#ishq mizaz shayari #bewajah ishq shayari #junoon qutes in urdu #status in junoon 


FOR VIDEO :ISHQ JUNOON

Friday, 24 April 2020

CORONA (COVID-19) YA ZOMBIES

Shayar ki Kalam se dil ke Arman...

CORONA (COVID-19) YA ZOMBIES



CORONA (COVID-19) YA ZOMBIES
KHUF



आप सबको एक बार ये आर्टिकल की हेडलाइंस देख के आश्चर्य हुआ होगा पर मैं इस आर्टिकल के माध्यम से आप लोगो को उस भयावक स्थिति से रूबरू करवाऊंगा ! जिससे आपको खुद को एहसास होगा की ये कोरोना मरीज घूम रहे है ! या ज़ॉम्बीज़ !(उन्ही लोगो के लिए जो कोरोना से संक्रमित होने के बाद भी घूम रहे है )


पहले में आपको बता दू ज़ॉम्बीज़ होते क्या है ! जैसा की फिल्मों  में दर्शाया जाता है ! उसी  को मद्देनजर रखते हुए ! ज़ॉम्बीज़ वो ज़िंदा लाशे है जो एक दूसरे को संक्रमित करती जाती है ! और बिना संक्रमण के लोग उनसे डर के इधर उधर छुपते रहते है ! 

उसी तरह कोरोना से ग्रसित वह लोग जो जान कर अपनी बीमारी दुसरो तक पहुंचा रहे है ! वो उन ज़ॉम्बीज़ से कम नहीं जिनका खुद के मस्तिष्क पर किसी तरह का कंट्रोल नहीं है ! वह अपनी बीमारी को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुंचना चाहते है ! 

मैं यहां किसी धर्म, या समुदाय का नाम नहीं लूगा! क्योकि देश  में जिस तरह का माहौल है लोगो को २ मिनट नहीं लगेंगे इसे धर्म से जोड़ने में, फिर लोगो के मन में फिर एक गुस्से का माहौल पैदा हो जायगा ! और इन सवालो के जवाब एक आम नागरिक के द्वारा  देना बहुत ही खतरनाक  हो जयगा!

CORONA (COVID-19) YA ZOMBIES
SUNAPAN
          
                   

चलिए  हम अब बात करते है ज़ॉम्बीज़ की आप सभी सिर्फ एक बार इस भयावक स्थिति के बारे में सोचिये ! क्या हो अगर आपके घर के बाहर ज़ॉम्बीज़ घूम रहे हो क्या आप घर से बाहर निकल पाएंगे ? नहीं ना, क्योकि आपको ज़ॉम्बीज़ दिखाई दे रहे है ! आप उनसे डरते है ! वास्तिविकता ये हे की दिखने वाला ज़ॉम्बीज़ कम खतरनाक है बजाय नहीं दिखने वाले कोरोना से आप देखके किसी से बच सकते है पर जो चीज दिखाई ना दे उससे कैसे बचेंगे ! क्योकि आप खुद जरिया हो उसको फैलाने आप ही नहीं आपकी हर वास्तु जरिया है ! 

CORONA (COVID-19) YA ZOMBIES
                    DAR                          

इसी का तो फायदा संक्रमित मानसिकता वाले ज़ॉम्बीज़ उठा रहे है और आप घर से बाहर निकलके उनका  काम आसान कर रहे है ! लोग रोज बहाने बनाके घर से बाहर जा रहे है ! सिगरेट,पान मसाले के लिए घूम रहे है ! कुछ लोग इसका फायदा उठा कर ब्लैक में  उनकी रेट्स बड़ा के बेच रहे है !

 ये जो कुछ नहीं होगा वाला ऐटिटूड जो आपमें है ना उस दिन बड़ा दुःख देगा जब आप भी उसी चैन में शामिल होके अपने पुरे परिवार को संक्रमित कर दोगे ! सोचिये , क्या हो जब आपके फैलाये संक्रमण से आपके किसी करीबी की जान चली जाये ! डर लगा ! नहीं लगा तो फिर आप घूम सकते है ! क्योंकि आपके लिए जब रिश्ते ही माईने नहीं रखते तो आप अन्य लोगो की कहाँ सोचेंगे !

                         


ये  भी पढ़िए : JATIGAT RAJNITI PAR KATASH

वैसे आप अकेले नहीं है जो   ज़ॉम्बीज़ को बड़ा रहे है ! कर्नाटक प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भी इस रेस में शामिल है जो अपने बेटे की शादी में १०० से   अधिक लोगो को एकत्रित कर पता नहीं कौनसा ख़िताब जितना चाह रहे थे !
एक मुख्यमंत्री अपने पिता के दाह संस्कार में नहीं जा रहा और एक आयोजन कर रहा है !

CORONA (COVID-19) YA ZOMBIES
CORONA

वैसे तो अगर में इस मुद्दे को राजनीती से जोड़ूंगा! तो अभी बहुत से लोग इसे भी बीजेपी कांग्रेस का मुद्दा बना देंगे ! और इस आपात समय में मैं उस मुद्दे को उजागर नहीं करुँगा ! उसपे भी लेख है ! पर उसपे सम्पूर्ण प्रकाश इस आपदा के माहौल के बाद प्रकाशित करुँगा ! क्योंकि यह समय राजनैतिक बुराईया निकलने का नहीं एक दूसरे का सहयोग करने का है ! जो हमारे राजनेता भी समझ जाये तो इस आपदा से हम निकल जायँगे !

बस आप सभी लोगो से यही गुजारिश है ऐसा वक़्त ना आ जाये की लोग हमेशा के लिए घरो में कैद हो जाये और कोरोना रूपी ज़ोंबी बाहर घूमता रहे ! कोई भी भूखा न सोये इसके लिए तत्पर रहे ! डॉक्टर ,पुलिस का सहयोग करे ! अपने परिवार जन की सेहत का ख्याल रखे! जय हिन्द जय भारत !

ये  भी पढ़िएJATIGAT RAJNITI PAR KATASH



GARIB BCHE KI HASI

#ZOMBIES IMAGES #ZOMBIES VIDEO #ZOMBIES MOVIE

 I recommend you to open a FREE trading and demat account with Edelweiss 

 Paperless, Hassle-free and quick


For any query call 09549522228

 

  
CORANA EFFECT VIDEO


Tuesday, 21 April 2020

KHAMOSH SHAYARI!खामोश शायरी!

KHAMOSH SHAYARI 

खामोश शायरी 

Shayar ki Kalam se dil ke Arman...


AAP LOGO KE LIYE YHA PAR KHAMOSH ZINDAGI SHAYARI, KHAMOSH SHAYARI IN ENGLISH,KHAMOSH CHARE PAR.KHAMOSH SHAYARI IN ENGLISH,KHAMOSH LAFZ SHAYRI,KHAMOSH MOHABBAT SHAYARI,KHAMOSH QUOTES IN HINDI,KHAMOSH ATTITUDE SHAYARI,KHAMOSH DARD LAFZ SHAYARI ETC. SHAYARI LIKHI GYI HE. TO PDTE RHAIYE JUDE RHAIYE.

आप लोग के लिए मेरी खामोश मोहब्बत ,मतलब की मोहब्बत शायरी ,तजुर्बे ने शेरो को खामोश, शांत शायरी,चुप्पी शायरी ,सन्नाटा शायरी , दिल की खामोसी शायरी जैसे बहुत सी शायरी यहां उपलब्ध है !


KHAMOSH SHAYARI!खामोश शायरी!

दबाकर सिसकियाँ भरते हुए गुज़रता हैं !
हर दिन तेरी तमन्ना करते हुए गुज़रता हैं !

हर दिन ख़बर आती है तेरे नए यार की,
सारा दिन जीते जी मरते हुए गुज़रता है !

तेरी गली से गुज़रने वाला हर इक लड़का ,
खिड़की पर ताक झांक करते हुए गुज़रता है !

मेरा काम है दिन रात तुम्हे याद करते रहना,
अच्छा,तुम्हारा दिन क्या करते हुए गुज़रता है ?

हाँ मैं पीता हूँ , बहुत पीता हूँ किसी की याद को,
सारा दिन याद का नशा करते हुए गुज़रता है !

Dbakar Siskiya Bharte Hue Gujarta He.
Har Din Teri Tamanna Krte Hue Gujarta He.

Har Din Khabar Aati He Tere Yaar Ki,
Sara Din Jite Ji Marte Hue Gujarata He.

Teri Gali Se Gujarne Wala Har  Ek Ldka,
Khidki Par Taak Jhaak Karte Hue Gujarta He.

Tera Kam He Din Raat Tumhe Yaad Krte Rhna,
Acha,Tumhara Din Kya Krte Hue Gujarta He.

Han Me Pia Hu, Bhut Pita Hu Kisi Ki Yaad ko,
Sara Din Yaad Ka Nasha Krte Hue Gujarta He.


ये भी पढ़िए :EMOTIONAL SHAYARI


KHAMOSH SHAYARI!खामोश शायरी!

जब तक जिया बस यही बात रुलाती थी,
उसके साथ रहता था उसी की याद आती थी!

मुझसे पूछिए किसी से बिछड़ जाने का दुःख,
मैं हँस नहीं पाता था मेरी साँस अटक जाती थी !

कुछ इस तरह से भी मेरी मौत आती थी  हर रोज़ ,
यहाँ फ़ोन तो उठता था कुछ आवाज नहीं आती थी !

JAB TAK JIYA BAS YHI BAAT RULATI THI,
USKE SATH RHTA THA USI KI YAAD AATI THI.

MUJHSE PUCHIYE KISI SE BICHAD JANE KA DUKH,
ME HANS NHI PATA THA MERI SANS ATAK JATI THI.

KUCH IS TRH SE BHI MERI MOUT AATI THI HAR ROJ,
YAHA PHONE TO UTHTA THA KUCH AAWAJ NHI AATI THI.




KHAMOSH SHAYARI!खामोश शायरी!

मेरी मजबूरी हैं मेरे आँसू  नज़र न आएँगे ,
तुम दर्द देती रहना हम यूँ ही मुस्कुराऍंगे !

धीरे धीरे ये घर वीरान होता जाएगा ,
वो भी चली गयी है हम भी चले जाएँगे !

 हम है यादों में जिंदगी गुजारने वाले लोग,
आप लोग ख़ौफ़ -ए - तनहाई से मर जाएँगे !

हमने निकाली है उसे सज़ा देने की तरकीब,
उसके जहन में रहेंगे पर नजर नहीं आएँगे !

मजनू की कहानी से सिर्फ एक चीज सीखी है ,
मर जाएँगे पर किसी से दिल नहीं लगाएँगे !

MERI MAJBURI HE MERE AANSU NAJAR N AAYNGE,
TUM DARD DETI RHANA HM YUHI MUSKURAYNGE!

DHIRE DHIRE YE GHAR VIRAN HOTA JAEGA,
WO BHI CHALI GAYI HE, HM BHI CHLE JAENGE.

HM HE YAADO ME JINDAGI GUJARNE WALE LOG,
AAP LOG KAUF-AE-TANHAYI SE MAR JAANGE.

HMNE NIKALI HE USE SAJA DENE KI TARKIB,
USKE JHN ME RHENGE PAR NAJAR NHI AAYNGE.

MJNU KI KHANI SE SIRF EK CHIJ SIKHI HE,
MAR JAENGE PAR KISI SE DIL NHI LGAYNGE.


ये भी पढ़िए :GARIB BACCHE KI HASI

KHAMOSH SHAYARI!खामोश शायरी!

कोइ रस्ते पर गिर जाए तो उठा सकता हूँ मैं ,
पर जो आँखो से गिर चूका हो उसका क्या करूँ ?

KOI RSTE PAR GIR JAE TO UTHA SKTA HUN ME,


PAR JO AANKO SE GIR CHUKA HO USKA KYA KRU?

ये भी पढ़िए :PYAR BHARI SHAYARI

                    MIRZA GALIB SHAYARI

          GULJAR SHAYARI

#TERE NAAL JEEWA GYE TERE NAAL MARANGE

 I recommend you to open a FREE trading and demat account with Edelweiss 

 Paperless, Hassle-free and quick


For any query call 09549522228

FOR VIDEO : KHAMOSH SANNATA

TERE NAL JEEWA GY TERE NAL MARANGE